प्रयोक्ता रेटिंग: 5 /5

सक्रिय तारकसक्रिय तारकसक्रिय तारकसक्रिय तारकसक्रिय तारक
 


The Subrauकार बैटरी की देखभाल (Car Battery Ki Dekhbhal) सरल व आसान है|

 

बैटरी के बुनियादी रखरखाव की टिप्स वाली जानकारीपूर्ण कहानी|

 

कब, कहाँ, क्यों, क्या व कैसे करें देखभाल?

पिछली कहानी: कार टायर में हवा कैसे भरें?

होश ने गाड़ी धीरे करते हुए घर के ड्राइववे में मोड़ ली और ठीक से पार्क कर दी|

“गज़ब पार्किंग!” रोष ने तारीफ की| होश खिल उठा|

“अब कार बैटरियों के बारे में तुम्हें कुछ बुनियादी टिप्स देता हूँ,” रोष ने बात जारी रखी| “कार बैटरी की देखभाल करना सरल और आसान है|”

“कार बैटरी ढीली धीरे-धीरे पड़ती है| जब ये बिगड़ने को होती है, तो आम तौर पर चेतावनी के संकेत मिलने लगते हैं| खतरे के उन पूर्व-लक्षणों के प्रति खबरदार रहो|”

“कमज़ोर बैटरी का एक आम लक्षण है मोटर से आती एक धीमी किट-किट या घिसने की आवाज़, जब कार स्टार्ट की जाती है| अगर ऐसा हो, तो अपनी बैटरी चेक करा लो|”

“अगर तुम्हारी बैटरी बदली जानी ज़रूरी है, तो वे बैटरी की जाँच करके बता देंगे तुम्हें| कभी-कभी दोषपूर्ण अल्टरनेटर या टूटी बेल्ट से भी ऐसी आवाज़ आ सकती है, लेकिन बाकी मौकों पर तुम पाओगे कि तुम्हारी बैटरी इतनी कमज़ोर हो गयी थी कि चार्ज ही नहीं रह पा रही थी| अगर ऐसा है, तो ये बैटरी बदलनी पड़ेगी|”

“तो, बैटरी समस्या के पहले संकेत अकसर गाड़ी शुरू करते हुए मिलते हैं| अगर कार बैटरी स्टार्टर को पर्याप्त वोल्टेज नहीं दे पा रही, तो तुम एक ख़ास किटकिटाहट सुनोगे और इंजन चलेगा नहीं| ये किटकिटाहट बताती है कि बैटरी पूरी तरह चार्ज नहीं है|"

“अपनी बैटरी की उम्र का हिसाब रखो| पुरानी कार बैटरी से सर्दी में कार स्टार्ट होने की सम्भावना कम हो जाती है| बैटरी आसानी से तीन साल चल जाती हैं, लेकिन कुछ छोटी-छोटी चीज़ें हैं, जिन्हें करके तुम उनकी उम्र बढ़ा सकते हो|”

“जैसे, नियमित रूप से अपने बैटरी टर्मिनल और उनके बिजली के कनेक्शन जांचो| क्या ढूँढ रहे हो तुम? ढीले कनेक्शन, कचरा या ज़ंग|”

“बैटरी टर्मिनल और केबल कनेक्शन साफ और टाइट होने चाहिये, ताकि करंट उनमें ठीक से बह सके| ये भी सुनिश्चित करो कि बैटरी खुद ढीली न हो|”

“कम्पन से बैटरी के खोल और उसकी प्लेटों को नुकसान पहुँच सकता है| सुनिश्चित करो कि टर्मिनल नियमित रूप से पानी और धातु की तार वाले ब्रश से साफ किये जाएँ|”

“बैटरी टर्मिनल पर जंग कार को स्टार्ट होने से रोक सकता है, विद्युत प्रतिरोध जोड़ कर| तो, समय-समय पर उन्हें साफ करना महत्वपूर्ण है|”

“सबसे अच्छा तो ये है कि बढ़िया सुरक्षात्मक आवरण (दस्ताने और आंखों की सुरक्षा के लिए कुछ) पहना हुआ हो क्योंकि टर्मिनल पर चढ़ा सफ़ेद पाउडर लेड सल्फेट होता है| अगर ये सूंघा, निगला या आपकी त्वचा के संपर्क में आ जाए तो विषाक्त होता है|”

“बैटरी को साफ और सूखा रखना भी अच्छा अभ्यास है| बैटरी की गन्दी सतह ज़ंग या बैटरी डिस्चार्ज का कारण हो सकती है| बैटरी पर तेल या चिकनाई (ग्रीस) गिरने से बचाना भी महत्वपूर्ण है|”

“बैटरी का जल स्तर हमेशा ठीक जगह रखकर भी तुम अपनी बैटरी की ज़िन्दगी बचा सकते हो| कुछ नई बैटरियों में अब ऐसा कर पाना मुमकिन नहीं, क्योंकि वे सील आती हैं और उनकी सील खोली नहीं जा सकती|”

“मगर तुम्हारे पास अगर एक ‘स्टैण्डर्ड’ या ‘लो मेनटेनांस’ (कम रखरखाव) बैटरी है, तो उसकी फिल्टर टोपियाँ उतार कर तुम्हें हर महीने उसके भीतर पानी या एसिड का स्तर जाँचना चाहिये|”

“इन बैटरियों के भीतर अगर तुम्हें एसिड का स्तर नीचे दिखाई दे, तो आसुत (डिस्टिल्ड वाटर) या उबला हुआ पानी डाल कर अंदर की प्लेटों को ढक भर दो| ज़्यादा नहीं भरो, और जो छलक गया है, उसे पोंछ दो| न्यूज़ीलैण्ड में तो, इसके लिए तुम नल का पानी भी इस्तेमाल कर सकते हो, क्योंकि हमारे नलकों का पानी काफी शुद्ध ही है|”

“बैटरी में सल्फ्यूरिक एसिड होता है| तो, ध्यान रखो कि तुम्हारे शरीर का कोई भाग या कोई नुकसान होने वाली चीज़ एसिड के संपर्क में न आये| अगर एसिड किसी चीज़ को छू जाए, तो ढेरों पानी के इस्तेमाल से एसिड धो डालो और बेअसर कर दो|”

“इसी कारण से, बच्चों को भी बैटरियों से दूर रखो|”

“अपनी कार को कम से कम हफ्तावार किसी ड्राइव पर ले जाकर अपनी बैटरी चार्ज रखो| कम-चार्ज या कम इस्तेमाल होने वाली बैटरी धीरे-धीरे समय के साथ फ्लैट हो जाती है| इससे तुम्हारी बैटरी की उम्र कम हो जाती है|”

“बैटरी के ऊपर धातु की चीज़ें मत रखो, क्योंकि इससे बैटरी शॉर्ट हो सकती है| इसके अलावा, चिन्गारी और लपट को बैटरी से दूर रखो, क्योंकि उसमें हाइड्रोजन गैस होती है जो आग पकड़ सकती है या फट सकती है|”

“बैटरी भारी होती है, इसलिए उसे उठाने के लिए वज़न उठाने की सही प्रक्रिया का उपयोग करना चाहिए| अगर बैटरी में कोई हैंडल लगा है, तो उसी का इस्तेमाल करना चाहिये बैटरी हिलाने के लिए|”

“कोई भी ठंडी पालेदार सुबह में उठना नहीं चाहता| तुम्हारी बैटरी को भी ये पसंद नहीं| कड़क ठण्ड में कार स्टार्ट करने से तुम्हारी कार यह मुश्किल से शुरू होने और अत्यधिक क्रेंकिंग से ग्रस्त हो सकती है|”

“इससे इसकी मोटर और विद्युत प्रणाली पर बहुत गहरा असर पड़ सकता है| कार को सुबह शुरू न होने से बचाने का सबसे बढ़िया तरीका है, उसे गेरेज में रखना| इससे वह ठण्ड से बच जायेगी|”

"आश्चर्यजनक है, कि इन छोटी-छोटी बातों को करके ही तुम कितना पैसा और वक़्त बचा सकते हो| कभी-कभी थोड़ा वक़्त ज़रूर लगता है इनमें, पर मेरे लिए तो, ये लगाने लायक रहा है|”

"एहतियात (सावधानी) करने से जोखिम कम तो होता है, पर रिस्क को तुम पूरी तरह खत्म नहीं कर सकते| तो, जब मुसीबत आती है, जैसे पंचर, फ्लैट बैटरी या कार के अन्दर ही चाबी लॉक हो जाए, तो मैं अपनी AA चालक इन्शुरेन्स का इस्तेमाल करता हूँ| न्यूज़ीलैण्ड में कहीं भी, आकर वे फ्लैट बैटरी जम्प-स्टार्ट, पंचर ठीक, या लॉक्ड कार खोल डालते हैं|”

अगली कहानी: तेल कैसे जाँचें?